कान्हा-कान्हा बोल गई।

छम-छम करती पायल तेरी, कानों में रस घोल गई ,❤ तू तो राधे… कुछ ना बोली, तेरी झाँझर… #कान्हा-कान्हा बोल गई।❤ 🙏 जय श्री कृष्णा 🙏

💕जय बिहारी जी की 💕 🙏 राधे राधे 🙏

💖तेरी यादें, तेरी बातें, बस तेरे ही फसाने हैं हाँ  कुबूल करते हैं, कि हम तेरे दीवाने हैं….💖 💕जय बिहारी जी की 💕 🙏 राधे राधे 🙏  

जय जय श्री राधेश्याम….🌸💐👏🏼

वृन्दावन सो वन नहीं, नंदगांव सो गांव! बंशीवट सो वट नहीं, कृष्ण नाम सो नाम राधा मेरी स्वामिनी, मैं राधे को दास। जनम जनम मोहे दीजियो, श्री वृन्दावन को वास। वृन्दावन के वृक्ष को, मरम न जाने कोय। डाल डाल और पात में , श्री राधे राधे होय।। राधा राधा कहत ही, सब बाधा मिट […]